For a better experience please change your browser to CHROME, FIREFOX, OPERA or Internet Explorer.

क्या आपने देखी मिर्ज़ापुर-2 वेब सीरीज अगर नही तो इंतज़ार किसका जल्द ही देखिये

क्या आपने देखी मिर्ज़ापुर-2 वेब सीरीज अगर नही तो इंतज़ार किसका जल्द ही देखिये

क्या आपने देखी मिर्ज़ापुर-2 वेब सीरीज अगर नही तो इंतज़ार किसका जल्द ही देखिये

मिर्ज़ापुर वेब सिरीज का नाम सुनते ही लोगो के अंदर जो एक्साइटमेंट जागती है उसका क्या ही कहना चाहे वो मिर्ज़ापुर 1 हो या मिर्ज़ापुर 2 हो लोगो ने जमकर इसपर प्यार लुटाया है। मिर्ज़ापुर के बाद आई मिर्ज़ापुर-2 लोगो के दिल मे उतर चुकी है। उतरे भी क्यों ना बेसब्री से लोगो को इसका इंतजार जो था।

बहरहाल मिर्जापुर सीजन 2 रिलीज कर दिया गया है पहले मुन्ना भैया ने खूब खून की होली खेली पर इस बार गुड्डू भैया चुन चुन कर बदला लेते दिखे गुड्डू भैया तो गुड्डू भैया इस बार तो गुड्डू भैया के साथ गोलू भी हाथ मे बंदूक लिए निशाने मरते दिख रही है। आपको बता दें गुड्डू का कैरेक्टर इस बार अली फ़ज़ल ने निभाया और साथ ही गोलू के कैरेक्टर में है श्वेता त्रिपाठी।

गौरतलब है जिससे बदला लिया जा रहा है। वह है कालीन भैया और उनका बेटा मुन्ना भैया यानी पंकज त्रिपाठी और देवेंद्र शर्मा। 2 साल लंबे इंतजार के बाद फैंस के सामने आई मिर्जापुर 2 को वक्त से पहले ही रिलीज कर अमेजॉन प्राइम पर स्ट्रीम कर दिया गया ऐसे में देर रात से ही फैंस अमेज़न खोल कर बैठे हैं वैसे तो अब तक यूँ तो ओटीटी प्लेटफार्म पर कई वेब सीरीज आ चुकी है। लेकिन मिर्ज़ापुर एकलौती ऐसी वेब्सिरिज है जिसका दर्शको को इतना एक्साइटमेंट रहा हो 

कहानी

mirzapur-season-2-reviews-500

मिर्ज़ापुर-2 में गुड्डू पंडित एक ऐसे जख्मी शेर की भूमिका में है जो बदले की भभकती आज में जल रहा है ठीक उसी तरह गोलू को भी अपना बदला चाहिए हालांकि दोनों के परिवारों ने किसी न किसी को खोया है और अब वह चाहते हैं कि उनके बच्चे वापस लौट आए लेकिन गुड्डू पंडित को अब बदला और मिर्जापुर की गद्दी दोनों चाहिए

मुन्ना त्रिपाठी रती शंकर शुक्ला के बेटे शरद के साथ हाथ मिला लेते हैं अब शरद को अपने पिता का बदला गुंडों से चाहिए और मुन्ना अपना अधूरा काम पूरा करना चाहते हैं इस बीच अखंडा अपने धंधे को औऱ बेहतर करने के लिए यूपी सीएम के साथ सांठ गांठ कर लेते हैं और उनके चुनावी फायदे के बहाने उनके करीब आ ही जाते हैं। चुनावी रैलियों में मुन्ना मुख्यमंत्री की बेटी से करीबियां बड़ा लेते हैं जिसका फायदा उठाते हुए अखंडा,मुन्ना की शादी मुख्यमंत्री की उस विधवा बेटी से करा देते है जो बाद में खुद ही मुख्यमंत्री बनती है। 

वेब सीरीज का असली मुख्य प्लस पॉइंट यही है कि इस सीरीज में जौनपुर और मिर्जापुर ही नही बल्कि इसके अलावा इस बार बिहार जहां के राउडी बहुत मशहूर माने जाते है वहां  के भी एक गैंग को कहानी में शामिल किया गया है जिसकी मदद खुद गुड्डू और अखंडा दोनों ही अपने धंधा बढ़ाने के लिए करना चाहते हैं। गौरतलब यह है कि दद्दा त्यागी के किरदार में लिलिपुट फारुकी है और उनके बेटों के किरदार में विजय शर्मा का डबल रोल भी है जो कि कहानी में काफी नयापन लाता है। जिससे कहानी काफी इंटरेस्टिंग लगने लगती है। 

क्या रहा कमजोर

mirzapur-season-2-reviews

पहले सीजन की तुलना में दूसरे सीजन का क्लाइमैक्स थोड़ा कम प्रभावी है। लेकिन यह बात तो माननी ही होगी कि फ़िल्म की कहानी आपको जहां छोड़ती है वह सस्पेंस से भरी है। वह आपको अगली कहानी का इंतजार करने को विवश करता है जबरदस्त फाइट सीक्वेंस और बीच बीच में आने वाले जो कहानी मैं आपका इंटेरेस्ट बनाए रखते हैं लेकिन कहना होगा कि इस बार का सीजन पिछले से थोड़ा ज्यादा बढ़ा है

गली गलौज से भरी है यह वेब सीरीज

आपको बता दें  कहानी को इस तरह से बनाया गया है कि दर्शकों का इंटरेस्ट इसमें बना रहता है सीरीज में गाली गलौज न्यूडिटी और वायलेंस पहले से ज्यादा रखा गया है तो अगर आप इस तरह का कंटेंट देखना पसंद नहीं करते हैं तो आप इसे अवॉयड कर सकते हैं

मिर्ज़ापुर सीजन 2 ऑफिसियल ट्रेलर

leave your comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Top